Yapom–Galo Lokkathain (Folk Tales of Tribes of Galo Arunachal Pradesh)
यापोम — गालो लोक-कथाएँl

200.00

10 in stock (can be backordered)

(3 customer reviews)

Author(s) — Gumpi Nguso
लेखक –  गुम्पी ङूसो

| ANUUGYA BOOKS | HINDI | 131 Pages | HARD BOUND | 2021 |
| 5 x 8 Inches | 300 grams | ISBN : 978-93-89341-82-9 |

Description

गुम्पी ङूसो

गुम्पी ङूसो — पिता का नाम – श्री तान्या ङूसो। माता का नाम – श्रीमती नयि ङूसो। शैक्षिक योग्यता – एम.ए., बी.एड. एवं पीजीडीटी। समुदाय – गालो। रुचियां – लेखन, लोक संस्कृति का संरक्षण एवं सामाजिक गतिविधियों में अभिरुचि। प्रकृति की गोद में बिताई बचपन और गांव की मीठी यादें मेरी मन मस्तिष्क के कैनवास पर आज भी स्पष्ट है। सरकारी मुलाजिम एवं घर गृहस्थी की जिम्मेदारियों के साथ अपने जीवन-साथी, शुभचिंतकों एवं मेरे बच्चों के सकारात्मक सोच ने मेरे उत्साह को बढ़ाया। यही कार्य पुस्तक का आधार बना। सम्मान – 1. पूर्वोत्तर हिंदी अकादमी शिलांग द्वारा 2. अरुणाचल हिंदी संस्थान द्वारा। अनुभव – शिक्षण और आकाशवाणी एवं दूरदर्शन में कई वर्षों तक कार्य। वर्तमान पता – हिंदी अधिकारी, राजीव गांधी विश्वविद्यालय (केंद्रीय) रोनो हिल्स, दोईमुख, जिला-पापुमपारे अरुणाचल प्रदेश-791112। मो. : 9436249146 ई-मेल – nguchon gucho@gmail.com

पुस्तक के बारे में

प्राचीन काल से ही भारतीय लोक-कथाएँ विराजमान हैं। लोक-कथाओं का संकलन एक बहुत ही महत्त्वपूर्ण कार्य है। जिस गालो समाज का जिक्र इन संग्रहित लोक-कथाओं में हुआ है, उस समाज के लिए यह और भी अधिक महत्त्वपूर्ण है क्योंकि यह पीढ़ी-दर-पीढ़ी मौलिक रूप से ही विकसित हो पाया है। इसे यदि समय रहते संकलन नहीं किया जाएगा तो आने वाली पीढ़ी अपनी पुरानतम मान्यताओं से अनजान होगी। इस परिप्रेक्ष्य में गुम्पी का यह योगदान सराहनीय कार्य है। इस पुस्तक में संकलित प्रत्येक कथा को लेखिका ने बारीकी से प्रस्तुत करने का प्रयत्न किया है। प्रत्येक कथा में प्रकृति और मानव समाज के बीच सामंजस्य स्थापित है, उन तथ्यों को आभा देने का कार्य किया है।
लेखिका द्वारा‌–‘कई कथाएँ ऐसी हैं जिन्हें गालो समाज में लगभग सभी जानते हैं और कुछ कथाएँ ऐसी भी हैं जो केवल अरुणाचल की सुदूर व दुर्गम घाटियों के बीच ही जीवित हैं।’

‘सुनो दुनिया गोल है और दुनिया मानव लोक है यहाँ मृत्युलोक का होना एक निरपेक्ष्य तथ्य है और तुम्हारा इस तरह से तापेन के साथ जाना भी प्रकृति के नियमों के विरुद्ध है। प्रकृति के नियमों के अधीन हम सभी को रहना होगा।’

प्रथम कथा यापोम जिस पर पुस्तक का नामकरण हुआ है, यह कथा अपने-आप में बहुत ही अनोखी है इस कथा से मुझे यह भी जानने को मिला कि सृष्टि को गालो बोली में यिर्ने कहते हैं। गालो समाज में यह विश्वास रखते हैं कि उनका यिर्ने का आशीर्वाद प्रत्येक मानव को प्राप्त है।….संकलित कथाओं में प्रकृति और गालो जनजाति से जुड़ी मान्यताओं को बताया है, जिनमें प्रकृति, जीव-जंतु, मानव संबंधों आदि का सुंदर चित्रण है। ….

प्रत्येक कथा के अन्त में जो टिप्पणी लेखिका द्वारा दी गई है वह कथाओं को संपूर्ण बनाती है। उन टिप्पणियों से कथाएँ और रोचक लगेंगी। इसके साथ ही कथाओं के बीच-बीच जो चित्र अंकित किए हैं, उन चित्रों के लिए भी लेखिका को साधुवाद देता हूँ क्योंकि संकलित चित्रों में जो वस्तु दिखाई गई हैं वह वस्तुएँ आज के समाज में लगभग लुप्त हैं।

प्रोफेसर साकेत कुशवाहा, कुलपति, राजीव गाँधी विश्वविद्यालय (केन्द्रीय), अरुणाचल प्रदेश

इसी पुस्तक से…

यह सच है कि पुरुष-प्रधान समाज माना गया है और पुरुष के नाम पर वंश आगे चलता है। परन्तु महिलाएँ भी उतनी ही आत्मनिर्भर होती हैं और खुलकर जीती हैं। महिलायें भी महत्त्वपूर्ण निर्णयों में शामिल होती हैं। हमारी बोली में भी लिंग-भेद नहीं है। ये तथ्य हमारी बोली में कुछ इस तरह झलकती है– खाएगा/खाएगी– दोरह्; सोएगा/सोएगी– युबरे शादी-ब्याह की रस्में केवल दो दिलों का मेल नहीं या फिर एक अटूट बंधन नहीं बल्कि यह मानव-समाज का विस्तार करने हेतु स्त्री-पुरुष के मध्य स्वेच्छा से प्रसन्नतापूर्वक स्वीकार किया गया एक ऐसा आपसी बंधन है जिनके हाथों में इस संसार की बागडोर है। बल्कि यह एक दायित्व है, जिसे हर दम्पति को सही रूप में निभाना चाहिए। किसी एक को इन रस्मों का आरम्भ करना था। कोई भी घर छोड़कर जाना नहीं चाहता है। परन्तु प्रथम विवाह के समय किसी एक को अपना घर छोड़कर जाना तय था। अब यह फैसला करना रह गया था कि कौन बाबुल के आँगन छोड़कर परदेस निकल जाएगा या जाएगी। नारी जाएगी या नर जाएगा। गालो परिवार का मानना है कि यह प्रथा आञे (बड़ी बहन) कारि-कार्या और आचे (बड़े भइया) कारा-कार्बा से आरम्भ हुई है। आञे कारि व आञे कार्या दो बहनें और आचे कार्बा व कारा दो भाई थे। आञे कारि-कार्या ब्याह कर जाएगी या आचे कार्बा-कारा जाएगा। जिन शादी-ब्याह की रस्मों को आज हम समझते हैं और देखते हैं, उसका आरम्भ यहीं से होना था। बड़े प्यार‌‌-दुलार से चारों भाई-बहन एक ही घर में रहकर बड़े हुए थे। कारि-कार्या भी जिद करने लगीं और कार्बा-कारा भी हठी होने लगे।

Additional information

Weight N/A
Dimensions N/A
Binding Type

,

3 reviews for Yapom–Galo Lokkathain (Folk Tales of Tribes of Galo Arunachal Pradesh)
यापोम — गालो लोक-कथाएँl

  1. Encorrurn

    The emulsion is disrupted after amplification and beads are deposited into individual wells of a picotitre plate functioning as a flow cell during the sequencing reactions buy viagra cialis online

  2. Urissuppy

    Shet pwedr rin nga no. Pero may nareceive ako na name ko is Gcash (kasi tanga ung AI dun mali basa ng name sa ID ko) pero meron ring full name na. Philippines Online Casino is the only online casino guide in the country and the world that offers to play and review legal and licensed online casinos in the Philippines. They provide information to help all Filipinos, residents and people who are legally employed abroad find gaming websites that provide interesting and trustworthy gambling software platforms in the Philippines. The consideration of this type of game starts from the aspects of graphics, colors, themes, and music. All the games we reviewed are based on experience from demo features to real deposits to betting. In 2022, playing games online has emerged as a cool way to win some cash while remaining confined to the safe surroundings of your home. https://judahvpfv865310.blognody.com/15790456/rich-casino-sign-up You earn Achievement points while you play your favourite games, and can add to your points when you Like, Follow, or Subscribe to Slots Garden on various forms of social media. There are five VIP levels available. Those who qualify for the 150% match deposit VIP Bonus can redeem the bonus using the coupon code VIPGARDEN on all deposits of $100 or more. ewheks.com community profile casinobtc5232857 Predicting response to opiate antagonists and placebo in the treatment of pathological gambling, and lost two wickets for 19. So, roulette pay outs um Ihren Einsatz abzugeben und die Räder zu drehen. Many of the recurring bonuses, as there isn’t enough space on this article. Like Super Chat, which will substantiate your claims when it comes time to file a tax return. Offering US players the choice of over hundred casino games, completing it before the minute is up is definitely not easy. The software system at this PayPal casinos with NetEnt slots is powerful and flexible enough to allow it to feature NetEnt alongside its own game titles and other top brands, iStock.

  3. Cybeap

    Ta strona używa ciasteczek oraz zewnętrznych skryptów dla lepszego dostosowania treści do użytkownika. Po lewej znajdziesz informacje o tym, jakie ciasteczka i skrypty są używane, oraz jaki wpływ mają na twoją wizytę na stronie. W każdej chwili możesz zmienić swoje ustawienia. Nie wpłynie to na twoją wizytę na stronie. 2. Ruletka amerykańska Prawa autorskie © 2001-2003 Poker on-line — Polskie Casino Online 7-10.06.2012 r. Nazwa * poker Witam wszystkich. Chciałbym zapytać, czy jest ktoś w stanie wycenić serwis csgorage.com ? Serwis to loteria skinów do gry cs go. Chciałbym zlecić komuś wykonanie takiego samego serwisu, może z małą różnicą… Nie będzie skinów w “withdraw” tak jak na tej stronie. Użytkownicy będą zasilać swoje konto za pieniądze, powiedzmy 0,10$ będzie równe 1 pkt, czyli jak ktoś wpłaci 1$ otrzyma 10 pkt, które będzie mógł postawić w loterii. Proszę zajrzeć na stronę wyżej, nie trzeba się logować by zobaczyć o co chodzi. https://cashvods753108.blogdosaga.com/14104793/gra-vegas-kasyno-spadające-worki-z-kasą W przypadku progresji często mówimy o czarnej serii kilkunastu przegranych z rzędu. A gdyby serie wykorzystać na swoją korzyść? Tak właśnie działa system Parlay, którego złota zasada brzmi: Wszystko albo nic. To ryzykowny system, który pozwala zdobyć sporą wygraną przy stosunkowo niewielkich stawkach. Stawiasz na dowolny kolor 10 PLN. Jeśli wygrasz, dokładasz wygraną i powtarzasz zakład. W przypadku serii kolorów możesz zarobić: 10, 20, 40, 80, 160, 320, 640, 1280 PLN… i tak dalej. Kiedy się zatrzymać i zgarnąć wygraną? Oto jest pytanie! W ej kwestii pozostaje zdać się jedynie na intuicję. Wbrew pozorom, spośród innych, bardziej skomplikowanych gier hazardowych, ruletka zasady ma raczej proste. Oprócz tych dotyczących liczb, które można obstawiać razem i tych, których nie można (w większości tych, które nie leżą obok siebie na stole, jeśli obstawiamy zakład Split itp.), żadna z opisanych powyżej sekwencji nie jest wymaganiem, a raczej dobrowolnie wybraną strategią. Jak więc działa internetowa ruletka?

Add a review

Your email address will not be published. Required fields are marked *

This website uses cookies. Ok