Aadivasi Sahitya Vimarsh आदिवासी साहित्य विमर्श

520.00

5 in stock

Editor(s) — Mohan Chauhan
संपादक – मोहन चव्हाण

Co-Editor(s) – Vijayprasad Awasthi, Ganesh Shekokar, Santosh Pagaar, Rakesh Valvi
सह-सम्पादक – विजयप्रसाद अवस्थी, गनेश शेकोकार, संतोष पगार, राकेश वळवी

| ANUUGYA BOOKS | HINDI | 264 Pages | Hard BOUND | 2019 |
| 5.5 x 8.5 Inches | 450 grams | ISBN : 978-93-86835-65-9 |

5 in stock

Description

डॉ. मोहन लक्ष्मणराव चव्हाण

जन्म – जाम्भरुन (टांडा) ता. जि.-हिंगोली (महाराष्ट्र)।
शिक्षा – एम.ए., एम.फिल., पीएच.डी. (हिन्दी), डॉ. बाबासाहेब अम्बेडकर मराठवाडा विश्वविद्यालय, औरंगाबाद।
शोध – 1. लघु शोध प्रकल्प–यू.जी.सी., क्षेत्रीय कार्यालय, पुणे 2. बृहत शोध प्रकल्प–बी.सी.यु.डी., पुणे विश्वविद्यालय, पुणे 3. बृहत शोध प्रकल्प– यू.जी.सी., नई दिल्ली।
प्रकाशन – 1. निराला की साहित्य साधना–एक अनुशीलन; 2. बनजारा बोली भाषा–एक अध्ययन 3. गरिमा (काव्य-संग्रह); 4. अंतरिक हलचल-(मराठी से हिन्दी में अनुवाद); 5. आदिवासी साहित्य विमर्श; 6. जंगल पहाड़ के पाठ (हिन्दी से मराठी में अनुवाद, शीघ्र प्रकाश्य); 7. हिन्दी व मराठी की कविताएँ क्रमश: हिन्दी एवं मराठी दैनिक पत्रों में प्रकाशित; 8. हिन्दी विषय के शोधालेख राष्ट्रीय स्तर के पत्रिकाओं में प्रकाशित।
क्रिया कलाप –1. राष्ट्रीय संगोष्ठियों एवं विश्वविद्यालय में आलेख वाचन एवं आलेख प्रकाशित; 2. आकाशवाणी औरंगाबाद तथा नाशिक से कविता पाठ एवं मैथिलीशरण गुप्त पर ‘राष्ट्र पुरोधाÓ शीर्षक से वार्ता प्रसारित; 4. ‘गरिमाÓ काव्य संकलन की कविताओं का नाशिक आकाशवाणी पर प्रसारण; 5. ‘हिन्दी निबंध विधाÓ पर विविधा कार्यक्रम में नाशिक आकाशवाणी पर प्रसारण।
संप्रति – विभागाध्यक्ष, हिन्दी विभाग, एच.पी.टी. एवं आर.वाय.के. विज्ञान महाविद्यालय, नासिक-422005 (महाराष्ट्र)

Reviews

There are no reviews yet.

Be the first to review “Aadivasi Sahitya Vimarsh आदिवासी साहित्य विमर्श”

Your email address will not be published.

This website uses cookies. Ok